• Sun. Jul 3rd, 2022

5 वर्ष बाद इस करवा चौथ पर बन रहा है शुभ योग

Bysarvesh sharma

Oct 21, 2021

तेजभान सिंह राघव-मुरादाबाद

इस वर्ष रोहिणी नक्षत्र में होगा चंद्रमा का पूजन

              बिलारी ।कार्तिक कृष्ण पक्ष प्रतिपदा को नगर स्थित मां पीतांबरा ज्योतिष एवं वास्तु अनुसंधान केंद्र पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें केंद्र प्रमुख आचार्य  ओम शास्त्री ने करवा चौथ व्रत पर प्रकाश डाला उन्होंने कहा कि इस वर्ष करक चतुर्थी 24 अक्टूबर रोहिणी नक्षत्र में रविवार को व्रत रखा जाएगा। इस दिन सुहागिन स्त्रियां अपनी पति की लंबी उम्र की कामना के लिए व्रत रखती हैं एवं रात्रि में चंद्र दर्शन के पश्चात व्रत खोला जाता है। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को यह व्रत रखा जाता है। करवा चौथ को करक चतुर्थी और दशरथ चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार इस दिन भगवान शिव गणेश जी और स्कंध के साथ बनी गौरी के चित्र की पूजा की जाती है इससे जीवन में सुख समृद्धि शांति प्राप्त होती है। आचार्य ओम शास्त्री ने बताया कि इस वर्ष यह रविवार को पड़ रही है। 5 वर्ष बाद फिर इस करवा चौथ पर शुभ योग बन रहा है। करवा चौथ पर इस वर्ष रोहिणी नक्षत्र में पूजन होगा तो वहीं रविवार का दिन होने की वजह से सूर्य देव का भी आशीर्वाद प्राप्त होगा। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि इस वर्ष 24 अक्टूबर रविवार सुबह 3:01 पर प्रारंभ होगी जो कि 25 अक्टूबर को सुबह 5:43 तक रहेगी। इस दिन चंद्र दर्शन का समय 8:11 पर है। पूजन के लिए शुभ मुहूर्त 6:55 से लेकर 8:51 तक रहेगा। प्रातः काल सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नान के पश्चात गणेश जी का पूजन करें एवं निर्जल व्रत का संकल्प लें। एक थाली में धूप, दीप, रोली ,सिंदूर रखें एवं देसी घी का दीपक जलाएं। इसके पश्चात चंद्र दर्शन कर व्रत खोलें एवं श्रृंगार की वस्तुएं भेंट करें। इस दिन विवाहित महिलाएं पूरा शृंगार कर शिव पार्वती के साथ गणेश कार्तिकेय एवं चंद्रमा का पूजन करें एवं गणेश मंत्र का जप करें। गणेश जी और चतुर्थी माता को भी  अर्घ्य प्रदान करें इससे पति की आयु लंबी होती है एवं महिलाओं का अखंड सौभाग्य बना रहता है। इस दिन ईशान कोण पर भगवान शिव मां गौरी गणेश या चित्र जल से भरा लोटा कलश स्थापित करें एवं कलश में अक्षत डालें। इस दिन व्रत करने से मां भगवती गौरी की कृपा हमेशा बनी रहती है। गोष्ठी में संजय शर्मा, मोहन लाल शर्मा, गौरव नारंग, विनोद नारंग, कमल शर्मा  विवेक शुक्ला  अशोक शर्मा , कपिल शर्मा  पीयूष गोयल, सुरेश गुप्ता ,राजीव सक्सेना  संजय सक्सेना  अविनाश यादव, रविंद्र चौधरी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *